Monday, February 20, 2012

सुपनाँ?


गाई डे मोपस्साँ दी क्हाणी Was It a Dream? दा  हिमाचली अनुवाद


---द्विजेन्द्र द्विज










साभार: दैनिक जागरण : धाराँ-धाराँ :दिनांक: ४ जून,२००७

No comments:

Post a Comment